अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती | Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti PDF in Hindi

Download अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती | Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti PDF in Hindi

अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती | Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti PDF download link is given at the bottom of this article. You can direct download PDF of अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती | Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti in Hindi for free using the download button.

Tags:

अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती | Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti Hindi PDF Summary

In this article, we have given the download link for Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti PDF in Hindi / अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती PDF. Chanting Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti regularly during Navratri pleases Maa Ambe and is a good way to get Maa Ambe blessings. Ambe Mata is the primal power which is the supreme power. She is the manifestation of Maa Durga and another name for Goddess Parvati. ‘Ambe Tu Hai Jagdamba Kali’ is a Hindu hymn (aarti) dedicated to Goddess Parvati Devi, the wife of Lord Shiva. Below we have provided the download link for अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती इन हिंदी लिरिक्स PDF | Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti Lyrics in Hindi PDF

अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती PDF | Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti PDF

अम्बे तू है जगदम्बे काली, जय दुर्गे खप्पर वाली l

तेरे ही गुण गायें भारती, ओ मैया हम सब उतारें तेरी आरती ll

तेरे भक्त जनों पे माता, भीर पड़ी है भारी l

दानव दल पर टूट पडो माँ, करके सिंह सवारी ll

सौ सौ सिंहों से तु बलशाली, दस भुजाओं वाली l

दुखिंयों के दुखडें निवारती, ओ मैया हम सब उतारें तेरी आरती ll

माँ बेटे का है इस जग में, बडा ही निर्मल नाता l

पूत कपूत सूने हैं पर, माता ना सुनी कुमाता ll

सब पर करुणा दरसाने वाली, अमृत बरसाने वाली l

दुखियों के दुखडे निवारती, ओ मैया हम सब उतारें तेरी आरती ll

नहीं मांगते धन और दौलत, न चाँदी न सोना l

हम तो मांगे माँ तेरे मन में, इक छोटा सा कोना ll

सबकी बिगडी बनाने वाली, लाज बचाने वाली l

सतियों के सत को संवारती, ओ मैया हम सब उतारें तेरी आरती ll

अम्बे तू है जगदम्बे काली, जय दुर्गे खप्पर वाली l

तेरे ही गुण गायें भारती, ओ मैया हम सब उतारें तेरी आरती ll

अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती इन हिंदी लिरिक्स PDF | Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti Lyrics in Hindi PDF

कोई भी पूजा बिना आरती के अधूरी है। नवरात्रि के इस पावन पर्व में माता भगवती की आरती आप भी पढ़ें। संपूर्ण पूजा के बाद आरती को जोर-जोर से गाकर पढ़ना चाहिए। माना जाता है कि माता अम्बे गौरी की आरती करने से मनुष्य के सभी दुख दूर हो जाते हैं, साथ ही घर में धन, वैभव और सुख-समृद्धि का वास होता है। मान्यता है कि जो भी भक्त सच्चे मन से मां दुर्गा की आरती करता है, उसकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं।

Here you can download the Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti PDF in Hindi / अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती PDF by click on the link given below.

अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती | Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti PDF Download Link

REPORT THISIf the download link of अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती | Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti PDF is not working or you feel any other problem with it, please Leave a Comment / Feedback. If अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती | Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti is a copyright material Report This. We will not be providing its PDF or any source for downloading at any cost.

RELATED PDF FILES

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *